page contents

Gir National Park Information– अगर आप गिर नेशनल पार्क घूमने जाने की सोच रहे हो तो यह आर्टिकल आप को गिर नेशनल पार्क के बारे में पूरी जानकारी देगा।

Table of Contents hide

Gir National Park - गिर नेशनल पार्क

Gir National Park Information

Image Credit : Wikimedia

गिर नेशनल पार्क को सासण गिर के नाम से भी जाना जाता है। 

गिर राष्ट्रीय उद्यान भारत के पश्चिम में आए हुवे राज्य गुजरात के जूनागढ़ जिले से 72 किमी दूर स्थित है। यह जगह एक शेर संरक्षित क्षेत्र है। जिसे वन्यजीव अभ्यारण्य घोसित किया गया है।

एक समय पूरी पृथ्वी पर एशियाई शेर विलुप्त होने की कगार पर थे तब बचे हुवे कुछ शेरो को जूनागढ़ के उस समय के नवाब और राज्य सरकार द्वारा संरिक्षित किया गया और यह अभ्यराण्य को सन 1965 में बनाया गया।

हमारी पृथ्वी पर एशियाई शेर सिर्फ यहीं सासण गिर में ही देखने को मिलते है। लुप्त होने के कगार पर खड़ी शेरों की इस प्रजाति को हमने उमदा प्रयत्नों द्वारा बचा लिया उस बात पर हमको गर्व होना चाहिए। 

Gir National Park Information - गिर नेशनल पार्क इनफार्मेशन

Image Credit : Wekipedia

गिर नेशनल पार्क जूनागढ़ के दक्षिण पूर्व में करीब 78 किमी की दूरी पर आया हुवा है। भगवान शंकर के प्रख्यात ज्योतिर्लिंग सोमनाथ से उत्तर पूर्व में 69 किमी की दूरी पर आया हुवा है।

भगवान शंकर के प्रथम ज्योतिर्लिंग सोमनाथ ज्योतिर्लिंग के बारे में आप अगर जानना चाहते हो तो निचे दी गई लिंक पर जाके पढ़ सकते हो।

ज्यादा पढ़ें : सोमनाथ ज्योतिर्लिंग 

सासण गिर का कुल क्षेत्रफल 1,412 किमी (545 वर्ग मील) है। जिसमे 258 किमी विस्तार में राष्ट्रीय उद्यान और 1,153 किमी विस्तार में वन्यजीव अभयारण्य आया हुवा है।

यहाँ के शेरो की जनगणना मई 2015 में आयोजित की गई थी। इस जनगणना में शेरो की आबादी पिछली जनगणना जो 2010 में की गई थी उससे करीब 27 % ज्यादा पायी गयी। 

2005 की गणना के अनुसार 359, 2010 में यहाँ पर शेरो के संख्या 411 थी जो बढ़के 2015 में 523 हो गई। इस गणना के अनुसार 109 नर शेर, 201 मादा शेर और 213 वयस्क शेर पाए गए।

शेरों की गणना किस तरह की जाती है ?

2015 की इस गणना को 32 क्षेत्रों और 106 उप-क्षेत्रों में विभाजित किया गया है। जिसमे 160 अधिकारी,600 मुख्य गणक,1200 स्वयंसेवकों, फोटोग्राफरों, डॉक्टरों और शोधकर्ताओं ने अपना योगदान दिया था। इस गणना में 200 चार पहिया वाहन और 600 बाइक तैनात की गईं थी।

साथ में आधुनिक टेक्नोलॉजी जैसी की जीएसआई, जीपीएस, वायरलेस तकनीक, कैमरा ट्रैप, रेंज फाइंडर्स, दूरबीन उच्च रिज़ॉल्यूशन डिजिटल कैमरा और वीडियो कैमरा के उपयोग के अलावा यूनिक आई डेंटिफिकेशन डिटेल्स के दस्तावेज का भी उपयोग किया गया था।

अगर आप इसके बारे में विस्तार से जानना चाहते हो तो निचे दी गई लिंक पर जाके विस्तार से पढ़ सकते हो।

Official Website : Population Estimates of Asiatic Lions 

Gir National Park Information

सासण गिर में कौन से प्राणी देखने को मिलते है?

Gir National Park Information

Leopard In Gir National Park Image Credit : Wikimedia 

यहाँ पर 38 से अधिक प्रजातियों के स्तनधारी, 300 एविफ़ुना प्रजातियाँ, सरीसृप की 37 प्रजातियाँ और 2000 प्रजातियाँ हैं।

जिसमें आपको ..

  • एशियाई गिर शेर
  • भारतीय तेंदुए
  • भारतीय कोबरा
  • सुस्ती भालू
  • जंगल की बिल्लियाँ
  • गोल्डन जैकल्स
  • भारतीय पाम सिविट्स
  • धारीदार हाइना
  • भारतीय मोंगूस और रेट्ल्स।
  • रेगिस्तानी बिल्लियाँ और रस्टी-चित्तीदार बिल्लियाँ मौजूद हैं लेकिन वह बहुत कम ही देखी जा सकती हैं।

गिर में निवास करने वाले ज्यादातर प्राणी शाकाहारी है। जैसे की… 

  • चीतल
  • नीलगाय (या नीला बैल)
  • एंटीलोप
  • सांभर
  • चार सींग वाला चिंकारा और जंगली सूअर।

Chital Gir Forest Image Credit : Wikimedia

सासण गिर में कौन से पक्षी देखने को मिलते है।

इन सब जानवरों के साथ साथ यह पार्क 250 से भी अधिक किस्मो के पक्षियों का भी घर है। आपको यहाँ पर कई किस्म के कबूतर,मोर,बटेर और कई पक्षियों को देख सकते है।

उसके साथ साथ आप यहाँ पर दूसरे कई और पक्षियों को भी देख सकते है जैसे की..  

  • क्रेस्टेड हॉक-ईगल
  • क्रेस्टेड सर्पेंट ईगल
  • लुप्तप्राय बोनेली के ईगल
  • ब्राउन फिश उल्लू
  • भारतीय ईगल-उल्लू 
  • रॉक बुश-बटेर 
  • ब्लैक हेडेड ओरियोल
  • गिद्ध   

सासण गिर में और कौन से सरीसृप देखने को मिलते है?

आप यह गिर नेशनल पार्क में 50 से भी ज्यादा सरीसृप और उभयजीवी जानवरों को देख सकते है। जैसे की..

  • रसेल वाइपर
  • सॉ-स्केल्ड वाइपर
  • राजा कोबरा
  • इंडियन क्रेट 

और इसके आलावा सांप की दूसरी भी कई और प्रजाति देखने को मिलती है।

गिर नेशनल पार्क में आये हुवे कमलेश्वर में बड़ा जलाशय आया हुवा है जहाँ पर बड़ी संख्या में मगरमच्छ है जिसे आप बिना किसी परेशानी से देख सकते है।

देवलिया सफारी पार्क अभ्यारण्य में आया हुवा एक देहाती विस्तार है जो आगंतुकों को इस क्षेत्र की देहाती सुंदरता का अनुभव करवाता है।

Gir National Park Information

Gir Forest History - गिर फॉरेस्ट इतिहास

आप जानते ही होंगे की गिर नेशनल पार्क को एशियाई शेरों की रक्षा के लिए बनाया गया था।

हम कुछ साल पीछे चले तो 19 वि शताब्दी में भारत और दुनिया में शेरो के शिकार पर कोई पाबन्दी नहीं थी जिसकी वजह से शेरों का शिकार एक सौख और बहादुरी का काम माना जाता था।

जिसके परिणाम स्वरुप दुनिया के सभी हिस्सों से शेरों का शिकार हो गया और भारत के गिर में भी सिर्फ कुछ गिनती में आ जाये उतने ही शेर बचे थे।

जिसको जूनागढ़ के नवाब  मोहम्मद रसूल ख़ानजी ने गिर के जंगल को शेरों के शिकार पर रोक लगादी और शेरों को आरक्षित करने का एलान कर दिया। जिसके बाद उनके बेटे नवाब मुहम्मद महाबत खान ने शेरों के संरक्षण में काफी मदद की।

अब उसके साथ वन विभाग भी शेरों की रक्षा के लिए आगे आया और नियम ज्यादा कड़े कर दिए गए। 

जिसकी वजह से 1913  में सिर्फ 20 शेरों की आबादी वाले गिर नेशनल पार्क में 2015 में शेरों की आबादी करीब 500 से ऊपर चली गयी।

गिर की इस जंगल में करीब 109 नर, 201 मादा और 213 के करीब उप-वयस्क शेर हैं।

आज की तारीख में गिर नेशनल पार्क दुनिया का एक मात्र एशियाई शेरों का निवास स्थान है। इस जगह को संरक्षित करने में सरकारी वन विभाग,कई एनजीओ और कई कार्यकर्ताओ का अमूल्य योगदान रहा है जिसके कारन आज गिर की इकोसिस्टम पूरी संरक्षित है।

जूनागढ़ के नवाबो की सूचि

जूनागढ़ के नवाबों बाबी या बाबई पठान (पश्तून जनजाति) के थे। जिसकी सूचि निचे दी हुई है। 

1730–1758 : मोहम्मद बहादुर ख़ानजी प्रथम या मोहम्मद शेरख़ान बाबई

1758–1774 : मोहम्मद महाबत ख़ानजी प्रथम

1774–1811 : मोहम्मद हामिद ख़ानजी प्रथम

1811–1840 : मोहम्मद बहादुर ख़ानजी द्वितीय

1840–1851 : मोहम्मद हामिद ख़ानजी द्वितीय

1851–1882 : मोहम्मद महाबत ख़ानजी द्वितीय

1882–1892 : मोहम्मद बहादुर ख़ानजी तृतीय

1892–1911 : मोहम्मद रसूल ख़ानजी

1911–1948 : मोहम्मद महाबत ख़ानजी तृतीय (अंतिम शासक)

Gir National Park Information

Mohammad Rasul Khanji

Image Credit : Wikimedia

Gir National Park Information

Mohammad Mahabat Khanji III

Image Credit : Wikimedia

Gir National Park Information

Best time to visit - घूमने के लिए सबसे अच्छा समय

गिर राष्ट्रीय उद्यान जाने के लिए सबसे अच्छा समय सर्दियों का होता है मतलब की नवंबर से लेकर मार्च का होता है। 

इस समय के दौरान आप को यहाँ पर शेर के साथ साथ दूसरे कई पक्षियों और जानवरों को देखने का मौका भी मिलेगा।

गिर नेशनल पार्क कब बंद रहता है?

जब यहाँ पर दक्षिण पश्चिमी मानसून पवन आते है तब यह जगह शेरों के ब्रीडिंग का समय होता है इस लिए इस जगह को आम जनता के लिए कुछ समय के लिए बंद कर दी जाती है और वो समय है 16 जून से लेकर 15 अक्टूबर। 

इस लिए अगर आप जूनागढ़ जाने का या गिर उद्यान देखने का प्लान बना रहे है तो इस समय दरमियान न करें।

Gir National Park Timings - गिर नेशनल पार्क टाइमिंग्स

6 am – 5 pm

Approx Visiting hours - घूमने के लिए कितना समय चाहिए

3-4 hrs

Gir National Park Entry Fees - गिर नेशनल पार्क एंट्री फीस

  • भारतीय पर्यटक के लिए : 75/-
  • विदेशी पर्यटक के लिए : 100/-
  • सफारी के लिए वाहन शुल्क : 35/-
  • फोटोग्राफी : 100/-
  • गाइड सेवा( 3-4 घंटे के लिए ) : 50/-

Gir National Park Information

How to Visit Gir National Park - गिर नेशनल पार्क कैसे घूमें ?

आप गिर नेशनल अभ्यारण्य 3 तरीके से घूम सकते है। 

  1. GIZ  देवालिआ बस सफारी 
  2. GIZ  देवालिआ जीप्सी सफारी
  3. गिर जंगल ट्रेल 

1.GIZ Devalia Bus Safari - GIZ देवालिआ बस सफारी

पर्यटकों को गिर जंगल और इसके वन्य जीवन को समझने के लिए देवालिआ में एक क्षेत्र बनाया गया है। जहाँ सभी प्रकार के आवास है। इस जगह को बनाने का मूल उदेश्य कम समय में शेरों और जंगल के अन्य जानवरों को उनके प्राकृतिक आवास में दिखाना और साथ में अभ्यारण्य में पर्यटक दबाव को कम करना है।

यहाँ पर आप शेर को उसके प्राकृतिक निवास सवाना क्षेत्र में खुले घूमते देखने का आनंद उठा सकते हो।  

सफारी टूर एक मिनी बस में किया जाता है जो आगंतुकों को गिर के दूसरे क्रॉस सेक्शन में ले जाती है। 

यात्री यहां एशियाई शेर सहित  30-45 मिनट के दौरे में अच्छी किस्म के वन्यजीव देख सकते हैं।

GIZ Devalia Bus safari Timings & Fees - GIZ देवालिआ बस सफारी टाइमिंग्स & फीस

Timings : Monday – Sunday 

Morning ( सुबह )- 7:30 Am to 11:00 Am

Evening ( शाम ) – 3:00 Pm – 5:00 Pm

Bus Permit Charges :

Monday – Friday

Indian ( भारतीय ) -150 INR

Foreigner ( फॉरेनर ) – 2800 INR

Saturday & Sunday

Indian ( भारतीय ) – 190 INR

Foreigner ( फॉरेनर ) – 3500 INR

अगर आप चाहो तो निचे दी गई गुजरात गवर्नमेंट की ऑफिसियल वेबसाइट की लिंक पर जाके आप डायरेक्ट ऑन लाइन बुकिंग करवा सकते है।

Official Website : Gir Online Bus Permit Booking 

2.GIZ Devalia Gypsy safari timings & Booking - GIZ देवालिआ जिप्सी सफारी टाइमिंग्स & बुकिंग

जहाँ पर आप बस सफारी में घूमने जाने वाले थे वही सारी जगहों को आप जीप्सी में कम लोग मतलब के सिर्फ अपने परिवार के साथ बैठ कर देख सकते है जिसकी टिकट थोड़ी महँगी रहती है। 

यह राइड करीब 1 घंटे की रहती है। जिसमे एक जिप्सी में ज्यादा से ज्यादा 6 बड़े और 1 बच्चे की परमिशन होती है।

Timings : Monday to Sunday ( यह सफारी प्रत्येक Wednesday बंद रहती है )

Morning ( सुबह )

  • 7:00 Am – 7:55 Am
  • 8:00 Am – 8:55 Am
  • 9:00 Am – 9:55 Am
  • 10:00 Am – 10:55 Am

Evening ( शाम )

  • 3:00 Pm – 3:55 Pm
  • 4:00 Pm – 4:55 Pm
  • 5:00 Pm – 5:55 Pm
Gypsy Permit Charges :
Monday to Friday

Indian ( भारतीय ) – 800 INR ( Extra Child Additional 100 INR )

Foreigner ( फॉरेनर ) – 5600 INR ( Extra Child Additional 1400 INR )

Saturday & Sunday/ Festival Days

Indian ( भारतीय ) – 1000 INR ( Extra Child Additional 125 INR )

Foreigner ( फॉरेनर ) – 7000 INR ( Extra Child Additional 1750 INR )

Note : एक ई-परमिट में अधिकतम 6 (+ 1 *) व्यक्तियों को अनुमति दी जाएगी।

* केवल 3 से 12 साल के बच्चे को ही अनुमति दी जाएगी।

* परमिट में गाइड चार्ज (केवल 400 रुपये) और जिप्सी चार्ज (केवल 1500 रुपये) शामिल नहीं हैं, जिन्हें संबंधित गाइड और जिप्सी वाहन मालिकों को अलग से भुगतान करना पड़ेगा।

अगर आप चाहो तो निचे दी गई गुजरात गवर्नमेंट की ऑफिसियल वेबसाइट की लिंक पर जाके आप डायरेक्ट ऑन लाइन बुकिंग करवा सकते है।

Official Website : 

3.Gir Jungle Trail - गिर जंगल ट्रेल

सासण गिर में अच्छी तरह से प्रबंधित इकोटूरिज्म कार्यरत है। जंगल में मार्ग बनाये गए है जिनकी औसत लंबाई करीब 35 किमी की है।

मार्ग कुछ इस तरह से बनाये गए है की वो गिर के देखने लायक सभी क्षेत्रों को दिखा देते है। जिससे जंगल के सभी वन्य जीवों को देखने में पर्यटकों को आसानी रहती है।

वन विभाग द्वारा पंजीकृत निजी खुली जिप्सियां, स्थानीय रूप से प्रशिक्षित स्थानीय गाइड के साथ स्थानीय रूप से उपलब्ध हैं। सभी परमिट वन विभाग द्वारा रिसेप्शन काउंटर, सिंह सदन, सासन में ऑनलाइन जारी किए जाते हैं।

यह सफर करीब 3 घंटे का होता है।

Gir Jungle Trail timings & Booking - गिर जंगल ट्रेल टाइमिंग्स & बुकिंग

Winter (16th October To 28th/29th February)

Monday to Sunday 

Morning ( सुबह )- 6:45 Am to 9:45 Am

Evening ( शाम ) – 3:00 Pm – 6:00 Pm

Summer (1st March To 15th June)

Monday to Sunday

Morning ( सुबह )- 6:00 Am to 9:00 Am

Evening ( शाम ) – 4:00 Pm – 7:00 Pm

Winter / Summer

Monday to Sunday  – 8:30 Am – 11:30 Am

Note : Gir Jungle Trail is closed from 16th June to 15th Oct every year.

अगर आप चाहो तो निचे दी गई गुजरात गवर्नमेंट की ऑफिसियल वेबसाइट की लिंक पर जाके आप डायरेक्ट ऑन लाइन बुकिंग करवा सकते है। 

Official Website : Gir Jungle Jeep Safari

यहाँ पर कुछ गवर्नमेंट मान्य प्राइवेट आर्गेनाइजेशन भी है जो आप को जीप सफारी करवाते है।

एक जीप में 6 भारतीय व्यक्तियों का करीब 4200/- होता है।

और विदेशी पर्यटकों के लिए यही शुल्क करीब 12500/- होता है।

इस शुल्क में जीप,ड्राइवर,परमिट,गाइड,कैमरा,ऑनलाइन भुक्तान गेटवे शुल्क और सेवा प्रभार में से किसी भी रिसॉर्ट्स / होटल,पिक एंड ड्रॉप सुविधा जीआईआर शामिल हैं अगर आप चाहो तो उसके द्वारा भी जंगल सफारी कर सकते हो। में निचे लिंक दे रहा हूँ आप उसके बारे में ज्यादा जानकारी प्राप्त कर सकते हो।

निचे दी गयी लिंक से आप उसे बुक कर सकते हो।

Book Hear : Gir Lion Safari

Gir National Park Information

How to Reach Gir National Park ? - गिर नेशनल पार्क कैसे पहुंचे ?

By Air,

यहाँ से सबसे निकटतम हवाई अड्डा केशोद है जो यहाँ से करीब 57 किमी की दूरी पर आया हुवा है।

दूसरा हवाई अड्डा दिउ है जो यहाँ से करीब 96 किमी की दूरी पर आया हुवा है।

एक और हवाई अड्डा राजकोट है जो यहाँ से करीब 160 किमी की दूरी पर आय हुवा है। जो देश के दूसरे बड़े शहरों के साथ अच्छी तरह जुड़ा हुवा है। 

अगर आप भारत के बहार से आ रहे हो तो आप मुंबई अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट पर पहुँच जाइये जहाँ से आप दीव एयर पोर्ट( यहाँ से करीब   किमी/approx 2 hrs )

या पोरबंदर (गिर से दूरी) पर पहुँच कर प्राइवेट बस या टैक्सी का विकल्प पसंद करके यहाँ तक पहुँच सकते हो।

By Train,

गिर का खुद का एक रेल्वे स्टेशन है लेकिन वो दूसरे शहरों से उतना कनेक्टेड नहीं है।

यहाँ से नजदीकी रेल्वे स्टेशन जूनागढ़ ( 50 किमी ) और वेरावल ( 40 किमी ) है। जो करीब दोनों स्टेशन राज्य एवं देश के बड़े शहरों से अच्छी तरह जुड़े हुवे है। दोनों स्टेशन से आपको नेशनल पार्क पहुँचने के लिए राज्य परिवहन की बसें, प्राइवेट टेक्सी या कैब मिल जाएगी। जो करीब 1 घंटे में आपको गिर नेशनल पार्क पहुंचा देगी।

नजदीकी बड़ा एयरपोर्ट और रेल्वे स्टेशन राजकोट है जो यहाँ से करीब 155 किमी की दूरी पर आया हुवा है जो देश के बड़े शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुवा है।

By Road,

गुजरात में सड़क व्यस्था बाकि राज्यों से अच्छी है जिसके कारण अगर आप सड़क यात्रा भी पसंद करें तो भी यह बुरा विकल्प नहीं है। गिर नेशनल पार्क सड़क व्यस्था से काफी अच्छी तरह जुड़ा हुवा है। आप गुजरात के प्रमुख शहरों जैसे की अहमदाबाद, राजकोट, जूनागढ़, वेरावल से राज्य परिवहन की बसें, प्राइवेट बसें और टेक्सी का विकल्प पसंद करके यहाँ आसानी से पहुँच सकते हो।

प्रमुख शहरों और गिर राष्ट्रीय उद्यान के बीच की लगभग दूरी…

  • दीव – गिर राष्ट्रीय उद्यान- 66 किमी
  • सोमनाथ – गिर राष्ट्रीय उद्यान- 69 किमी
  • वेरावल – गिर राष्ट्रीय उद्यान- 75 किमी
  • जूनागढ़ – गिर राष्ट्रीय उद्यान – 78 किमी
  • केशोद – गिर राष्ट्रीय उद्यान- 90 किमी
  • राजकोट – गिर वन भारत- 168 किलोमीटर
  • अहमदाबाद – गिर राष्ट्रीय उद्यान – 347 किमी
  • बरोडा – गिर राष्ट्रीय उद्यान – 400 किमी 
  • बॉम्बे – गिर राष्ट्रीय उद्यान – 827 किमी 

Gir National Park Information

Where to Stay in Gir - गिर में कहाँ पर रुकें ?

गिर के पास आप को कुछ बहोत अच्छी होटल्स और रिसॉर्ट्स मिल जायेंगे जिसकी लिंक में निचे दे रहा हूँ। आप अपनी जरूरियात के अनुसार रूम बुक कर सकते है।

The Fern Gir Forest Resort

Woods at Sasan,

The Gateway Hotel.

साथ में कुछ होटल सर्च साइट की लिंक भी दे रहा हूँ जिसे आप अपनी जरूरियात और अफोर्डबिलिटी के अनुसार रूम सर्च कर सकते हो।

Places to Visit Near Gir - गिर के पास घूमने लायक जगहें

गिर नेशनल पार्क के करीब दूसरी कई अच्छी जगहें आई हुवी है जहाँ आप अपने फॅमिली के साथ अच्छा समय बिता सकते हो।

गिर नेशनल पार्क के पास में गिरनार,जूनागढ़,सोमनाथ,दीव जैसी जगहें आई हुई है। 

इसके आलावा कमलेश्वर बांध, जो गिर में सबसे बड़ा बांध है, ऐसा ही एक आकर्षण है और इसे अक्सर ‘गिर की जीवन रेखा’ के रूप में जाना जाता है। यह हिरन नदी के ऊपर बनाया गया है। 

राष्ट्रीय उद्यान के भीतर स्थित सुंदर तुलसी श्याम मंदिर भी अवश्य ही दर्शनीय है। 

सासन गिर रिजर्व के पास स्थित मगरमच्छ प्रजनन फार्म भी एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है।

Conclusion - निष्कर्ष

Gir National Park Information – मैंने अपने और अपने दोस्तों के अनुभव और साथ साथ में ऑन लाइन रिव्यूज़ की मदद से यह आर्टिकल लिखा हुवा है जिसका मूल उदेश्य आप जब यहाँ पर घूमने आओ तब कम से कम तकलीफ में ज्यादा से ज्यादा इस सुन्दर जगह का आनंद ले सको। 

इस आर्टिकल में दी गयी सारी ऑफिसियल वेबसाइट की लिंक आप को अच्छी तरह से और विस्तार से जानकारी देने के उदेश्य से है जिसमे से मुझे किसी भी प्रकार की आय नहीं हो रही। 

इस पृथ्वी की कुदरती संपदा को बचाना हमारा उदेश्य होना चाहिए तो आपसे रिक्वेस्ट है की किसी भी प्रकारके प्लास्टिक या जंगल को प्रदुसित करे ऐसी वस्तुओं को नियम के अनुसार इस्तेमाल करे जिससे हम वन्य जीव की इकोसिस्टम को ज्यादा बेहतर बना सके।

अगर इस आर्टिकल में कोई त्रुटि रह गयी हो या आप इससे भी अच्छी कोई बात जानते हो तो मुझे जरुरसे कमेंट करें। और अगर आप को यह आर्टिकल अच्छा और उपयोगी लगा हो तो अपने दोस्तों में जरूर से शेयर करें।

आप जरूर इस चॅनेल को सब्सक्राइब नोटिफिकेशन बेल दबाके कर दीजिये। जिससे जब भी में दूसरा आर्टिकल पोस्ट करू तो तुरंत आप को नोटिफिकेशन सबसे पहले मिले।

इस आर्टिक्ल को आप का कीमती समय देने के लिए आपको धन्यवाद। 


dharmesh

My name is Dharmesh. I would like to travel different known as well as unknown places and same will be share with you in this website for make your journey more easy and enjoyable.

16 Comments

Best SEO Services · January 24, 2020 at 9:35 am

Awesome post! Keep up the great work! 🙂

judi Casino · June 1, 2020 at 4:21 pm

Hello my loved one! I want to say that this post is awesome, nice written and
include approximately all vital infos. I would like to see
more posts like this .

Maniagol · June 3, 2020 at 3:33 am

Its not my first time to visit this web page, i am browsing this site dailly and obtain nice facts from here every day.

bokep terbaru · June 3, 2020 at 7:56 pm

My relatives always say that I am killing my time here at web, except I know
I am getting knowledge everyday by reading such nice articles.

Judi slot online · June 4, 2020 at 5:11 pm

That is a great tip particularly to those fresh to the blogosphere.

Brief but very accurate info… Thanks for sharing this one.
A must read article!

maha8 · June 9, 2020 at 4:48 pm

Hi, I wish for to subscribe for this webpage to take newest updates,
therefore where can i do it please assist.

    dharmesh · June 10, 2020 at 6:33 am

    Hi,first of all thnx for ur support.you can push notification bell appear in bottom right side of ur screen and subscribe this site. whenever(mostly every week)I post in this website you will receive article notification. thnx.

g · June 16, 2020 at 4:12 am

I’ve been exploring for a little bit for any high-quality articles or
weblog posts on this sort of area . Exploring
in Yahoo I at last stumbled upon this site. Studying this information So i’m glad to show
that I’ve a very just right uncanny feeling I discovered exactly what I needed.

I so much for sure will make sure to don?t omit this site and provides it
a look regularly.

g · June 16, 2020 at 1:55 pm

This is really interesting, You’re a very skilled blogger.

I have joined your feed and look forward to seeking more of your great
post. Also, I’ve shared your website in my social networks!

    dharmesh · June 16, 2020 at 5:13 pm

    Thnaks for your valuable comment..

g · June 17, 2020 at 2:05 am

Magnificent beat ! I would like to apprentice at the
same time as you amend your website, how could i subscribe
for a weblog website? The account aided me a applicable deal.
I had been a little bit familiar of this your broadcast provided bright clear
idea

g · June 17, 2020 at 5:40 pm

I don’t know whether it’s just me or if perhaps everyone
else experiencing issues with your blog. It
appears as though some of the written text on your content are running off
the screen. Can somebody else please comment and let me know if this is happening to them too?
This could be a issue with my internet browser because I’ve had this happen before.
Many thanks

    dharmesh · June 18, 2020 at 5:20 pm

    There is no issue noted even though i will check from my end. thanks for your valuable replay.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share
Translate »