page contents

आज हम इस आर्टिकल में जिस किले के बारे में बात करने वाले है वह मराठा शासन के सबसे महत्वपूर्ण किलों में से एक रहा है। 

4603 फीट की ऊंचाई पर बने हुवे इस किले को तोरणा किले के नाम से जाना जाता है।

जिसे पुणे जिले का सबसे ऊंचा किला माना जाता है।

ट्रेकर्स में बहोत ही लोकप्रिय, मराठाओं के इस खूबसूरत किले के बारे में आइये आज हम ज्यादा विस्तार से जानते है।

तो फ्रेंड्स ज्यादा समय न लेते हुवे आइये शुरू करते है। 

तोरणा फोर्ट कहाँ पर आया हुवा है ?

तो सबसे पहले आप के मन में यही प्रश्न आएगा की भाई यह किला आया कहाँ पर है ?

तो दोस्तों.. तोरणा किला भारत के पश्चिम में आए हुवे महाराष्ट्र राज्य के पुणे जिले में सुंदर पहाड़ियों में मराठाओं द्वारा शाषित एक बड़ा किला आया हुवा है।

जिसे तोरणा फोर्ट, तोरणा गड या प्रचंड गड के नाम से जाना जाता है।

इस की ऊंचाई पर बने हुवे स्थान की वजह के कारण यह किला ट्रेकिंग और एडवेंचर कैंपिंग के सौखिनों में बहोत ही लोकप्रिय है।

वैसे देखने जाये तो महाराष्ट्र ऐसा राज्य है जहाँ पर कई सारे ऐतिहासिक किले आए हुवे है।

महाराष्ट्र राज्य में मराठाओं का शासन कई सालों तक रहा था।

जिसके कारण महाराष्ट्र के अधिकतर किलों पर मराठाओं का शासन रहा था।

तोरणा फोर्ट उन सभी किलों में पहला किला है जहाँ से मराठा साम्राज्य की शुरुआत हुई थी। 

Torna Fort History

Torna Fort

Image Credit : Wikimedia (Dheelar khan)

तोरणा फोर्ट के बारे में मिले हुवे ऐतिहासिक विवरण ऐसा बताते है की यह किला करीब 13 वीं शताब्दी में बनाया गया था।

इस किले का निर्माण हिंदू देवता भगवान शिव के उपासकों द्वारा करवाया गया था।

जिसे बाद में 17 वीं शताब्दी में मराठा शासक शिवाजी ने जित लिया जो बाद में मराठा साम्राज्य का केंद्र बन गया।

सन 1643 में जब शिवाजी ने इस किले को जीता तब उनकी उम्र महज 16 साल की थी।

शिवाजी ने किले का नाम ‘प्रचंडगढ़’ रखा और इसे तोरण नाम दिया गया।

किले के भीतर कई स्मारक और मीनारें बनाये गए।

18 वीं शताब्दी में, शिवाजी महाराज के पुत्र संभाजी की हत्या के बाद मुगल साम्राज्य के मुगल सम्राट औरंगजेब ने इस किले पर कब्ज़ा कर लिया था।

उन्होंने इस किले का नाम बदलकर “फतुल्गैब”कर दिया था।

लेकिन बाद में पेशवाओं और मुगलों द्वारा एक सिद्धांत ( पुरंदर की संधि ) पर हस्ताक्षर किया गया जिसे किए जाने के बाद इसे मराठों को वापस कर दिया गया।

तोरणा फोर्ट क्यों जाएँ ?

Torna Fort

Image Credit : Wikimedia (Rishi1904)

अब आप के मन में यह प्रश्न भी जरूर से आएगा की वहां पर जाये तो जाये क्यों?

अगर आप पहाड़ों पर चढ़ने के सौखीन है और भारत के इतिहास में रूचि रखते हो तो आप अपनी इन दोनों इच्छाओं को यहाँ पर खूबसूरती से पूरी कर सकते हो।

तोरणा फोर्ट ट्रेकर्स और इतिहास प्रेमियों के लिए महाराष्ट्र में आया हुवा यह किला परफेक्ट डेस्टिनेशन है।

यह किला शहर की भागदौड़ से दूर पहाड़ों की हरियाली के बिच शांत और शुद्ध वातावरण में आया हुवा है।

प्रकृति से प्रेम करने वालों के लिए यह सफर जरूर से यादगार रहेगा। 

सबसे खास की आप यहाँ पर ट्रेकिंग का बहोत ही खूबसूरत अनुभव कर सकते हो और एडवेंचर सफर का आनंद उठा सकते हो।

Best time to visit - यहाँ आने के लिए कौन सा समय सबसे अच्छा रहेगा ?

मॉनसून के बाद के समय( सितम्बर से लेकर मार्च ) आप यहाँ की खूबसूरती का आनंद उठा सकते हो।

How to Reach Torna Fort? - तोरणा फोर्ट कैसे पहुंचे ?

By Air..

नजदीकी बड़ा हवाई अड्डा पुणे का है जहाँ से आप प्राइवेट टैक्सी या कैब बुक कर सकते हो। 

एयरपोर्ट से तोरणा फोर्ट लगभग 60 किमी की दूरी पर आया हुवा है जहाँ पर पहुँचने में आप को करीब 1 से 1.5 घंटा लग सकता है।

By Rail..

निकटतम रेल्वे स्टेशन भी पुणे का ही है जो यहाँ से करीब 50 किमी की दूरी पर आया हुवा है। यहाँ से आप टैक्सी करके तोरणा फोर्ट आसानी से पहुँच सकते हो।

By road..

तोरणा किला सड़क मार्ग से आस पास के बड़े शहरों से अच्छी तरह जुड़ा हुवा है। इस लिए आप सरकारी बस द्वारा भी पहुँच सकते हो।

Things to See in Fort - किले में क्या देखें ?

  • बिनी दरवाजा
  • कोठी दरवाजा
  • बुधला माची
  • ज़ुंगार माची
  • हनुमान बांसियन

Forts in Maharastra - महाराष्ट्र में आये हुवे कुछ प्रख्यात कीलें

  • Raigadh Fort, Raigadh
  • Daulatabad Fort, Daulatabad
  • Lohagadh Fort, Lonavala
  • Harihar fort
  • Torna Fort, Pune
  • Sinhagadh Fort, Pune
  • Rajmachi Fort, Pune
  • Shivneri Fort
  • Tung Fort,
  • Purandar Fort
  • Malhargad Fort (Sonori Fort)
  • Janjira Fort, Murud
  • Panhala Fort, Panhala
  • Ghangad Fort
  • Shanivarwada Fort, Pune
  • Yashwantgarh Fort, Redi
  • Sindhugarh Fort, Malvan
  • Pratapgad Fort, Satara
  • Korigad Fort, Aambi Valley City
  • Kandhar Fort, Nanded
  • Tikona (Vitandgad) Fort, Lonavala
  • Vijaydurg Fort
  • Vasota Fort, Satara
  • Visapur Fort, Malavali
  • Suvarnadurg Fort, Dapoli
  • Murud-Janjira
  • Prabalgad Fort

dharmesh

My name is Dharmesh. I would like to travel different known as well as unknown places and same will be share with you in this website for make your journey more easy and enjoyable.

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share
Translate »